Breaking News :

रामविलास पासवान: सुर्ख़ियों के बावजूद ठौर की तलाश

बिहार में पटना सहित छह जिले फिर से लॉक, लगी हैं ये पाबंदियां

सौरव गांगुली ने किया एशिया कप रद्द करने का ऐलान तो पीसीबी ने कहा…

कांग्रेस का मास्टर प्लान, 243 सीटों पर सर्वे कराने के बाद लेगी ये निर्णय

नेपाल ने अब सीतामढ़ी में रोका भारत का सड़क निर्माण कार्य

नेपाल की नादानी! बिहार सीमा के पास नो मेंस लैंड पर बने पुल पर लगाया बोर्ड

बिहार में मास्क पर चढ़ा चुनावी रंग, राजनीतिक सुरक्षा के लिए होगी जंग

फजीहत के बाद नीतीश कुमार के आवास में नहीं खुलेगा कोविड-19 हॉस्पिटल

दरभंगा एयरपोर्ट से अब अक्टूबर में नहीं उड़ेगी विमान, एक और तारीख की हुई घोषणा

कोरोना पर भारी पड़ी आस्‍था, दीवार फांदकर बाबा के दर्शन को पहुंचे भक्त

10-Jul-2020

बचपन में कचरा उठाता था टी-20 का सबसे बड़ा क्रिकेटर, रोहित-विराट को भी छोड़ा पीछे


अनिश्चितताओं के बदले क्रिकेट को यदि अचंभों का खेल कहा जाये तो गलत नहीं होगा। इस खेल में टैलेंटेड खिलाड़ी को भी खराब किस्मत के चलते खेलने का मौका नहीं मिलता तो कई बार कोई ऐसा खिलाड़ी दुनिया भर पर छा जाता है जिसके बारे में कभी किसी ने सोचा नहीं होता कि वह आगे चलकर विश्व क्रिकेट में इतना नाम कमा सकता है।

यूं तो कैरिबियाई खिलाड़ियों को उनके मस्तमौला अंदाज और ताबड़तोड़ खेल के लिये जाना जाता है लेकिन अगर टी20 क्रिकेट में विस्फोटक बल्लेबाज का नाम लेने की बात की जाये तो विराट कोहली, रोहित शर्मा से पहले फैन क्रिस गेल का ही नाम लेते नजर आयेंगे। क्रिस गेल आज बेहद ही मस्तमौला लाइफ जीते हैं। लेकिन कभी ऐसा भी दिन था जब गेल दाने-दाने को मोताज थे।

आज गेल का जमैका में अपना बहुत बड़ा घर है, जिसमें हर तरह की सुविधाएं हैं लेकिन आपको ये जानकर हैरानी होगी कि ये खिलाड़ी बचपन में इतना गरीब था कि उसे खाना खाने के लिए चोरी तक करनी पड़ी । क्रिस गेल ने पेट पालने के लिए कचरा तक उठाया और उनकी मां सड़क पर मूंगफली बेचती थी।

क्रिस गेल का जन्म एक बेहद ही गरीब परिवार में हुआ उनकी मां मूंगफली बेचा करती थीं। क्रिस गेल का पूरा परिवार एक कच्ची झोपड़ी में रहता था। गरीबी के चलते गेल अपनी पढ़ाई तक पूरी नहीं कर पाए। वो 10वीं क्लास तक ही पढ़े क्योंकि उनके माता-पिता के पास स्कूल फीस भरने के लिए पैसे नहीं थे। गेल ने बताया कि उन्हें अपना पेट पालने के लिए सड़क पर कचरा तक बीनना पड़ा। वो प्लास्टिक की बोतल उठाते थे और उन्हें बेचते थे। लेकिन आज गेल टी-20 में रोहित और विराट से भी आगे हैं।