Breaking News :

बाबरी विध्वंस पर 28 साल बाद आया फैसला, आडवाणी, जोशी, उमा भारती सहित सभी आरोपी बरी

बिहार विधानसभा चुनाव के लिए मेनू कार्ड जारी, रसगुल्ला 15 तो समोसा 8 रुपये का

बाबरी मस्जिद विध्वंस केस: 28 साल बाद आज आएगा फैसला, आडवाणी, उमा भारती सहित 49 आरोपी

महागठबंधन में लगभग फाइनल हो गई सीट शेयरिंग, जानें RJD और कांग्रेस को मिली कितनी सीटें!

नीतीश के JDU में टिकट पाने को लेकर ‘मारामारी’, एक सीट पर 30 दावेदार

देश की पहली रैपिड रेल का FIRST LOOK जारी, 180 KM प्रतिघंटा होगी रफ्तार

लीजेंड सिंगर एसपी बालासुब्रमण्यम का निधन, 40 हज़ार से अधिक गानों में दी अपनी आवाज

हो गया बिहार विधानसभा चुनाव का ऐलान, जानिए कब और कितने चरणों में होगा चुनाव

कृषि बिल के खिलाफ चक्का जाम, पंजाब में रेलवे ट्रैक पर डटे आंदोलनकारी, कई ट्रेन प्रभावित

शुरू होने से पहले ही विवादों में घिरी दरभंगा हवाई सेवा, Spice Jet ने की धोखाधड़ी

1-Oct-2020

एक बार फिर झंझारपुर को जिला बनाने की मांग हुई तेज, कई संगठन सक्रिय


बिहार विधानसभा चुनाव से ठीक पहले एक बार फिर झंझारपुर को जिला बनाने की मांग तेज हो गई है। जिला बनाने की मांग को लेकर रविवार को अनुमंडल कार्यालय में जन संघर्ष मोर्चा, झंझारपुर जिला बनाओ संघर्ष समिति एवं ब्राह्मण महासभा ने संयुक्त रूप से एक दिवसीय धरना दिया। धरना में शामिल वक्ताओं ने कहा कि सरकार ने वादा करने के बाद भी झंझारपुर को अभी तक जिला नहीं बनाया जिससे यहां की जनता खुद को छला हुआ महसूस कर रही है। 

वक्ताओं ने कहा कि अब इस मांग को लेकर जागरण अभियान चलाया जाएगा। जिसमे नुक्कड़ सभा का आयोजन कर लोगों को जागरूक किया जायेगा। बता दें कि भगवानपुर की सभा में मुख्यमंत्री ने परिसीमन आयोग की बाध्यता के कारण इस मांग को खारिज किया था और कहा था कि परिसीमन आयेाग की बाध्यता समाप्त होने के बाद झंझारपुर को जिला बनाया जाएगा।

वक्ताओं ने बिहार में सक्रीय भाजपा, जदयू और राजद पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा और जदयू सरकार में है दोनों पार्टी ने झंझारपुर को जिला मानकर संगठन खड़ा की हुई है। लेकिन इसके बावजूद कोई कुछ नहीं कर रहा है। वक्ताओं ने सरकार से झंझारपुर को प्रशासनिक जिला बनाने की मांग की जिसमे सुनील झा सनोज, ओम प्रकाश पोद्दार, शैलेंद्र कुमार झा, उमेश गुप्ता, रमेश कंजर, रामविलास गिरि, मो. हैदर, सियाराम दास आदि शामिल थे।