Breaking News :

कश्मीर में BJP नेता को आतंकियों ने मारी गोली, अस्पताल में मौत

सुशांत केस: वापस लौटीं फरार रिया चक्रवर्ती, लटकी गिरफ्तारी की तलवार

मुंबई में हर तरफ बाढ़ जैसे हालात, बेपटरी हुई जिंदगियां

बाढ़ विस्थापितों ने पुलिस पर हमला कर पिस्टल छीनी, थानेदार आईसीयू में भर्ती

कोविड-19 अस्पताल में आग लगने से 8 मरीजों की मौत, पीएम ने जताया दुख

चीन में एक और वायरस का कहर, 7 लोगों की मौत, 60 संक्रमित

मधुबनी के गंगासागर तालाब में मछली को लेकर हुआ विवाद, युवक की हत्या

चीन के कहने पर अब ऐसा कदम उठाने वाला है नेपाल

चिराग पासवान के लगातार हमलों से जदयू परेशान, बीजेपी क्यों है चुप?

भगवतीपुर के रियाज को राष्ट्रपति ने दिया शानदार तोहफा

7-Aug-2020

बिहार में मास्क पर चढ़ा चुनावी रंग, राजनीतिक सुरक्षा के लिए होगी जंग


बिहार विधानसभा चुनाव की तैयारी जोरों पर है, हालांकि अभीतक चुनावी तारीख की घोषणा नहीं की गई है लेकिन राजनितिक पार्टियां चुनावी तैयारी में मशगूल है। राजनीतिक दलों के चुनाव चिन्ह अब मास्क, गमछा और गंजी पर उतरने लगे हैं। बाजारों में इन पार्टियों के चुनाव चिन्ह लगे मास्क की बिक्री शुरू हो चुकी है। पिछले चार माह में वैसे तो मास्क के कई रंग और रूप देखने को मिले हैं लेकिन अब मास्क पर चुनावी रंग चढ़ चुका है।

चुनावी से पहले राजद, जदयू, लोजपा, भाजपा समेत सभी पार्टियों के चुनाव चिह्न वाले मास्क तेजी से ट्रेंड करने लगे हैं। प्रचार सामग्री की दुकान चलाने वालों का कहना है कि कोरोना काल में मास्क और गमछा की डिमांड बढ़ी है। विभिन्न दलों से जुडे़ लोग पार्टी के रंग और चुनाव चिह्न के हिसाब से मास्क के आर्डर दे रहे हैं।

नेता अब चुनाव चिह्न वाले मास्क पहनकर चुनावी कार्यक्रमों में शामिल होंगे। साथ ही चुनाव प्रचार भी करेंगे। चुनाव से पहले पार्टी के नेता और कार्यकर्ता खुद चुनाव चिह्न वाले मास्क बांट रहे हैं। बिहार के चुनावी दंगल में चुनाव चिन्ह वाले मास्क की बिक्री से बाजार गुलजार रहने वाला है। रैली हो या न हो लेकिन इस मास्क के जरिए पार्टी कार्यकर्त्ता लोगों तक पहुंचने की कोशिश जरूर करेंगे।

मास्क के निर्माण और मार्केटिंग में लगे लोगों के अनुसार उत्तर बिहार में बीजेपी, जेडीयू और आरजेडी से कुल डेढ़ लाख मास्क के ऑर्डर मिले हैं। पटना में इनका निर्माण कराया जा रहा है। थोक में एक मास्क की कीमत 11 रुपये है। बताया जा रहा है कि मुजफ्फरपुर में चुनाव तक राजनीतिक मास्क का कारोबार 25 से 30 करोड़ तक पहुंच सकता है।