Breaking News :

बाबरी विध्वंस पर 28 साल बाद आया फैसला, आडवाणी, जोशी, उमा भारती सहित सभी आरोपी बरी

बिहार विधानसभा चुनाव के लिए मेनू कार्ड जारी, रसगुल्ला 15 तो समोसा 8 रुपये का

बाबरी मस्जिद विध्वंस केस: 28 साल बाद आज आएगा फैसला, आडवाणी, उमा भारती सहित 49 आरोपी

महागठबंधन में लगभग फाइनल हो गई सीट शेयरिंग, जानें RJD और कांग्रेस को मिली कितनी सीटें!

नीतीश के JDU में टिकट पाने को लेकर ‘मारामारी’, एक सीट पर 30 दावेदार

देश की पहली रैपिड रेल का FIRST LOOK जारी, 180 KM प्रतिघंटा होगी रफ्तार

लीजेंड सिंगर एसपी बालासुब्रमण्यम का निधन, 40 हज़ार से अधिक गानों में दी अपनी आवाज

हो गया बिहार विधानसभा चुनाव का ऐलान, जानिए कब और कितने चरणों में होगा चुनाव

कृषि बिल के खिलाफ चक्का जाम, पंजाब में रेलवे ट्रैक पर डटे आंदोलनकारी, कई ट्रेन प्रभावित

शुरू होने से पहले ही विवादों में घिरी दरभंगा हवाई सेवा, Spice Jet ने की धोखाधड़ी

1-Oct-2020

कोसी और सीमांचल में बाढ़ का खतरा, 100 से अधिक गावों में घुसा पानी


भारी बारिश की वजह से उत्तर बिहार में पर बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है। राज्य में हो रही लगातार बारिश और नेपाल में हुई भीषणा बारिश के बाद राज्य की तमाम नदियां उफान पर आ गई हैं। नेपाल से छोड़ा गया पानी कोसी नदी में पहुंचा है और इससे नदी अपने पूरे शबाब पर है। कोसी की उफान के साथ ही कोसी और सीमांचल के क्षेत्रों में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है।

भागलपुर में कोसी के कटाव के कारण नवगछिया क्षेत्र के कई गांवों में खतरा मंडराने लगा है। वहीं, अररिया व किशनगंज के करीब सौ गांवों में पानी घुस गया है। इन जिलों के करीब 60 से 70 हजार लोग बाढ़ से प्रभावित हैं। वे आवागमन की समस्या से जूझ रहे हैं। खगड़िया में बागमती उफान पर है और चौथम प्रखंड के दियारा इलाके पानी फैल गया है। हजारों एकड़ में लगी फसलें डूब गई हैं।

अररिया होकर नेपाल से आनेवाली करीब एक दर्जन छोटी-बड़ी नदियां बकरा, परमान, रतवा, नूना, घाघी, कनकई, भलुआ, लोहंदरा, बरजान, लवकटरिया आदि निकलती हैं। इन नदियों का जलस्तर बढ़ने से जिले के 100 से अधिक गांवों में बाढ़ का पानी घुस गया है। 50 हजार लोग आवागमन की समस्या से जूझ रहे हैं। दिनों दिन स्थिति भयावह होती जा रही है।

इसके अलावा मधुबनी में कमला नदी भी उफान पर है। नेपाल से पानी छोड़े जाने के बाद कमला नदी पानी अपने पूरे तेज बहाव के साथ बह रही है। वहीं मधुबनी में कुछ इलाकों में कोसी नदी का पानी भी घुसने लगा है। मधुबनी प्रशासन ने कहा कि हमने एनडीआऱएफ टीम को बुला लिया है। पानी काफी तेजी से अंदर घुसने लगा है।

ख़बर मिथिला