Breaking News :

बाबरी विध्वंस पर 28 साल बाद आया फैसला, आडवाणी, जोशी, उमा भारती सहित सभी आरोपी बरी

बिहार विधानसभा चुनाव के लिए मेनू कार्ड जारी, रसगुल्ला 15 तो समोसा 8 रुपये का

बाबरी मस्जिद विध्वंस केस: 28 साल बाद आज आएगा फैसला, आडवाणी, उमा भारती सहित 49 आरोपी

महागठबंधन में लगभग फाइनल हो गई सीट शेयरिंग, जानें RJD और कांग्रेस को मिली कितनी सीटें!

नीतीश के JDU में टिकट पाने को लेकर ‘मारामारी’, एक सीट पर 30 दावेदार

देश की पहली रैपिड रेल का FIRST LOOK जारी, 180 KM प्रतिघंटा होगी रफ्तार

लीजेंड सिंगर एसपी बालासुब्रमण्यम का निधन, 40 हज़ार से अधिक गानों में दी अपनी आवाज

हो गया बिहार विधानसभा चुनाव का ऐलान, जानिए कब और कितने चरणों में होगा चुनाव

कृषि बिल के खिलाफ चक्का जाम, पंजाब में रेलवे ट्रैक पर डटे आंदोलनकारी, कई ट्रेन प्रभावित

शुरू होने से पहले ही विवादों में घिरी दरभंगा हवाई सेवा, Spice Jet ने की धोखाधड़ी

1-Oct-2020

आम चुनने गई नाबालिग लड़की का पहले रेप किया और फिर मार डाला


पिछले दिनों मधुबनी के रहिका में हुई नाबालिग के साथ गैंग रेप का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ था कि अब दरभंगा के पतोर ओपी क्षेत्र से एक और रेप की खबर सामने आई है। आम चुनने गई 13 साल की बच्ची के साथ पहले बलात्कार किया गया और फिर उसे मौत के घाट उतार दिया गया। परिजनों का कहना है कि आम चुनने गई किशोरी की रेप कर हत्या करने की गई है। 

बुधवार को संदिग्ध अवस्था में मृत पायी गयी 13 साल की किशोरी की मौत के मामले में गुरुवार को परिजनों ने एफआईआर भी कराई है। बताया जा रहा है कि एपीएम थाने में चार एफआईआर दर्ज कराई गई है। मृतका के पिता ने चार एफआईआर में मृतका के पिता ने पूर्व सैनिक अर्जुन मिश्र, उनकी पत्नी पूनम देवी और हरिसुन्दर मिश्र के विरुद्ध दर्ज करवायी है। इसमें तीनों को किशोरी की गला दबाकर हत्या करने और अर्जुन पर दुष्कर्म करने के साथ अनुसूचित जाति उत्पीड़न करने का भी आरोप लगाया गया है।

दूसरी एफआईआर पतोर ओपी अध्यक्ष सुभाष चंद्र मंडल ने गृहस्वामी अर्जुन मिश्र के विरुद्ध उनके घर से विदेशी शराब बरामदगी को लेकर करायी है। तीसरी एफआईआर भी थानाध्यक्ष ने ही 17 नामजद समेत 150 अज्ञात लोगों के खिलाफ सरकारी काम में बाधा डालने का आरोप लगाने में कराई है। चौथी एफआईआर आरोपी पूनम देवी ने अपने घर में हुई लाखों की नकदी व जेवरात की लूट और कीमती सामान को तोड़फोड़ कर नष्ट करने का आरोप लगाया है।

बताया जा रहा है कि बुधवार को पतोर में 13 वर्षीया किशोरी की लाश संदिग्ध अवस्था में अर्जुन मिश्र के कंपाउंड में मिली थी। घटना के बाद उग्र ग्रामीणों ने गृहस्वामी के घर में जमकर तोड़फोड़ की थी। घटना स्थल पर एसएसपी बाबू राम पहुंचे थे। उन्होंने उग्र ग्रामीणों को समझा-बुझाकर शांत किया था और उस समय उन्होंने करंट लगने से भी किशोरी की मौत होने की आशंका जताई थी।

ख़बर मिथिला