Breaking News :

पहले चरण के चुनाव के लिए JDU और BJP के सीटों की आधिकारिक घोषणा आज

नीतीश कुमार का राजनीतिक करियर समाप्त करना चाहती है BJP, ऐसे जानें समीकरण

सुशांत केस: AIIMS की रिपोर्ट पर मची हायतौबा, मुंबई पुलिस कमिश्‍नर ने द‍िया बड़ा बयान

53 किलोग्राम की मछली ने बनाया लखपति, बुजुर्ग महिला की रातोंरात खुली किस्‍मत

IPL 2020 पर सट्टेबाजों का साया, इस खिलाड़ी को मिला ऑफर तो BCCI ने शुरू की जांच

सलमान खान ने पूछा कब होगी मेरी शादी, ज्योतिषी ने दिया ऐसा जवाब…

BJP-JDU में सीट शेयरिंग को लेकर बन गई सहमति, चिराग को लेकर अभी भी खींचातानी

तबीयत बिगड़ने के बाद रामविलास पासवान के दिल का हुआ ऑपरेशन

सीट बटवारा होते ही टूट गया महागठबंधन, कांग्रेस ने माना तेजस्वी का लोहा

पिछले 10 वित्त वर्षों में 11 गुणा बढ़ा कृषि बजट, नए कृषि सुधारों से होगा लाभ

22-Oct-2020

महागठबंधन में लगभग फाइनल हो गई सीट शेयरिंग, जानें RJD और कांग्रेस को मिली कितनी सीटें!


विधानसभा चुनाव को लेकर विपक्षी महागठबंधन से जुड़ी ये बड़ी खबर है। राष्‍ट्रीय जनता दल, कांग्रेस व अन्‍य घटक दलों के बीच सीट शेयरिंग पर बातचीत अंतिम चरण में है। महागठबंधन में भी सीटों के बंटवारे को लेकर तस्वीर साफ हो चुकी है और बुधवार का दिन काफी निर्णायक माना जा रहा है। कयास लगाए जा रहे हैं कि कांग्रेस और राजद के बीच बुधवार को बातचीत के बाद दोनों दलों के नेता अपने फैसले को मीडिया के सामने रखेंगे।

इससे पहले महागठबंधन में सीट शेयरिंग के फार्मूले को लेकर जो तस्वीर सामने आ रही हैं उसके मुताबिक RJD- 135 से 140, कांग्रेस- 60 से 65, लेफ्ट- 20 से 25, वीआईपी- 5 से 8, झामुमो- 3 और सपा 2 सीटों पर चुनाव लड़ सकती है। महागठबंधन में सीटों के बंटवारे को लेकर ये अब तक का डेवलपमेंड है, लेकिन आखिरी समय में कुछ सीटों की संख्या घट बढ़ सकती है। बातचीत का दौर अब भी जारी है, ऐसे में VIP का महागठबंधन में रहने पर संशय बरकरार है।

आरजेडी का कहना है कि हम कांग्रेस से अपनी मांगों में यथार्थवादी होने की अपील करते हैं। महागठबंधन के साथ हमने अपनी सीटों में कटौती की है। कांग्रेस पार्टी की जिद से महागठबंधन की संभावनाएं प्रभावित हो सकती हैं। बता दें कि महागठबंधन से जीतनराम मांझी के बाद RLSP चीफ उपेंद्र कुशवाहा भी अलग हो चुके हैं। ऐसे में महागठबंधन के दूसरे घटक दल वामपंथी पार्टियों को सम्मानजनक सीटें मिलने की उम्मीद है।

दूसरी ओर बिहार के विपक्षी महागठबंधन से अपना रास्‍ता अलग कर चुके राष्‍ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्‍यक्ष उपेंद्र कुशवाहा के लिए 29 सितंबर, मंगलवार को एक और नए गठबंधन का ऐलान किया है। उन्‍होंने मायावती की बसपा और जनवादी सोशलिस्‍ट पार्टी के साथ गठबंधन की घोषणा की है। कुशवाहा ने महागठबंधन पर गलत रास्‍ते पर जाने का आरोप लगाया है। उन्‍होंने एनडीए और महा गठबंधन को एक ही सिक्‍के के दो पहलू बताया है।

#बिहार चुनाव