Breaking News :

रामविलास पासवान: सुर्ख़ियों के बावजूद ठौर की तलाश

बिहार में पटना सहित छह जिले फिर से लॉक, लगी हैं ये पाबंदियां

सौरव गांगुली ने किया एशिया कप रद्द करने का ऐलान तो पीसीबी ने कहा…

कांग्रेस का मास्टर प्लान, 243 सीटों पर सर्वे कराने के बाद लेगी ये निर्णय

नेपाल ने अब सीतामढ़ी में रोका भारत का सड़क निर्माण कार्य

नेपाल की नादानी! बिहार सीमा के पास नो मेंस लैंड पर बने पुल पर लगाया बोर्ड

बिहार में मास्क पर चढ़ा चुनावी रंग, राजनीतिक सुरक्षा के लिए होगी जंग

फजीहत के बाद नीतीश कुमार के आवास में नहीं खुलेगा कोविड-19 हॉस्पिटल

दरभंगा एयरपोर्ट से अब अक्टूबर में नहीं उड़ेगी विमान, एक और तारीख की हुई घोषणा

कोरोना पर भारी पड़ी आस्‍था, दीवार फांदकर बाबा के दर्शन को पहुंचे भक्त

10-Jul-2020

मधुबनी, दरभंगा, सीतामढ़ी सहित इन जिलों के प्रवासी श्रमिकों को रेलवे देगा रोजगार


लॉकडाउन के चलते रोजगार खो चुके और वापस अपने गृह राज्य पहुंच चुके प्रवासी मजदूरों को भारतीय रेलवे ने रोजगार देने का ऐलान किया है। गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत रेलवे प्रवासी श्रमिकों रोजगार देने का निर्णय लिया है। इसके तहत रेलवे में होने वाले कार्यों में इन श्रमिकों को काम करने का अवसर दिया जायेगा।

बताया जा रहा है कि सहरसा, सुपौल, पूर्णिया, अररिया, खगड़िया, बेगूसराय, समस्तीपुर, दरभंगा, मधुबनी, सीतामढ़ी, पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण और मुजफ्फरपुर जिले में संचालित रेलवे के कार्यों में प्रवासी श्रमिकों को रोजगार दिए जाएंगे। पूर्व मध्य रेल के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने कहा कि 31 अक्टूबर तक प्रत्येक प्रवासी श्रमिक को 125 दिनों तक का रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा।

बता दें कि समस्तीपुर रेल मंडल में 14 जिलों में प्रवासी श्रमिकों को रेलवे के तहत होने वाले कार्यो में रोजगार उपलब्ध कराया जायेगा। फिलहाल इसकी तैयारी शुरू कर दी गयी है। बिहार राज्य के 32 जिलों के प्रवासी श्रमिकों को गरीब कल्याण रोजगार योजना के तहत लाभ प्रदान किया जाएगा।

पूर्व मध्य रेल द्वारा सभी जिले के लिए एक-एक कॉर्डिनेटर नियुक्त किया गया है। कॉर्डिनेटर रेलवे के जेऐजी संवर्ग के अधिकारी होंगे। जो यह सुनिश्चत करेंगे कि रेलवे से संबंधित निर्माण और रेल विकास कार्य सुचारू रूप से बिना किसी व्यवधान के चलता रहे। अगर इसमें कोई समस्या उत्पन्न होती है तो वे इसकी रिपोर्ट संबंधित डीएम और मंडल रेल प्रबंधक को सौंपेंगे।